Home Motivational Speech संगत का असर – Short Motivational Story in hindi

संगत का असर – Short Motivational Story in hindi

3451
0
SHARE
motivational story in hindi
motivational story in hindi

जीवन में ऐसे कई पल आते है जब कुछ छोटी छोटी बातें हमें बहुत बड़ी रुकावट लगने लग जाती है। मनुष्य के पास हर समस्या का हल होता है फिर भी कुछ परिस्थितियाँ हमारे सोचने और समझने की शक्ति को इतना प्रभावित करती है कि हम कोई फ़ैसला ही नही ले पाते। ऐसी ही घटना से जुड़ी हमारी कहानी संगत का असर -Short Motivational Story in Hindi, Inspriational Story in Hindi. जो हमें बताती है कि जब कोई समस्या हमारे सामने आए तो ये हमारी ज़िम्मेदारी बनती है कि उसका कारण जानकर उसका समाधान करे। अन्यथा वो समस्या हम पर हावी होकर हमारे भविष्य को प्रभावित कर सकती है ।motivational story in hindi

 

अवसर और सूर्योदय में एक ही समानता है देर करने वाले हमेशा इन्हें खो देते है।

ये कहानी मनीष नाम के लड़के की।

जो मिडल क्लास परिवार में पैदा हुआ।

जो 12 कक्षा तक अपने क्लास में टॉप पर रहा।

कमाल का बच्चा पढ़ने, लिखने और खेलने में सबसे आगे, परिवार को उसपर गर्व था।

परिवार को लगता था कि जब ये बच्चा बड़ा हो जाएगा ज़रूर कुछ कमाल करेगा।

हम लोगों की लाइफ़ बदल देगा, हमारे परिवार में ख़ुशियाँ आ जाएगी,

सब कुछ बदल देगा ये लड़का।

 

लेकिन मनीष जब 12 कक्षा पास करके कॉलेज में गया

तो उसकी लाइफ़ पूरी तरह बदल गयी।

उसके आसपास ऐसे दोस्त आ गये जिन्होंने उसे बिगाड़ कर रख दिया

देर रात तक पार्टी चलने लगी।

घर वालों से झूठ बोल कर पैसे मंगवाने लगा

घरवालों को समझ नही आ रहा था।

उन्होंने एक मनीष को समझाने की कोशिश की

लेकिन मनीष ने घरवालों को ही डाँट दिया कि आप मुझे ज्ञान मत दीजिये।

मुझे सब कुछ मालूम है, आप मुझे मत समझाइए।

मैं जानता हू कि क्या अच्छा है क्या बुरा है आप मुझे मत बताइये।

घरवालों ने उसके बाद कुछ नही बोला।

 

Read : त्याग में सफलता- Motivational Story in Hindi

एक साल बाद जब रिज़ल्ट आया तो मनीष एक सब्जेक्ट में फ़ेल हो गया और

जैसे ही ये बात मनीष को पता चली उसे ज़ोर का झटका लगा।

जो लड़का 12 कक्षा तक टॉप करता आ रहा था

वो कॉलेज में जाते ही फ़ेल कैसे हो सकता है।

 

जो ये फ़ेल होने वाली बात थी ये बात मनीष के मन, दिमाग़ में इतना घर कर गयी

कि वो घर में बंद हो गया। एक कमरे में रहने लग गया।

घरवालों से बात करना बंद कर दिया। दोस्तों के फ़ोन उठाना बंद कर दिया,

यहाँ तक की बाहर आना जाना भी बंद कर दिया।

मनीष धीरे-धीरे डिप्रेशन का शिकार हो रहा था।

ऐसा लग रहा था कि उसकी लाइफ़ में यही पर ब्रेक लग जाएगा।

यही सब कुछ ख़त्म हो जाएगा।

 

मनीष जिस स्कूल में पढ़ता था। जहाँ से उसने 12 कक्षा पास की थी।

वहाँ के प्रिन्सिपल को जब ये बात पता चली

तो उन्होंने मनीष को अपने से मिलने के लिये डिनर पर घर बुलाया।

मनीष ये न्योता मना नही कर पाया आख़िर प्रिन्सिपल ने बुलाया था।

तो मनीष शाम को प्रिन्सिपल के घर पर पहुँच गया।

Read: सफलता में रुकावट – Short Motivational story in hindi

उसने देखा कि प्रिन्सिपल जो की घर के गार्डन में बैठे हुए थे ठंड के दिन थे।

तो वह अंगिठी पर हाथ सेक रहे थे। मनीष भी जाकर बैठ गया।

 

प्रिन्सिपल ने पूछा-बेटा क्या हाल चाल है और क्या चल रहा है। मनीष कुछ नही बोला।

क़रीबन 10 मिनट दोनो के बीच कोई बातचीत नही हुई।

तो प्रिन्सिपल ने सोचा कि क्या अलग किया जाये

तभी उन्होंने अंगिठी में से एक कोयले का टुकड़ा जो जल रहा था

उसे बाहर निकाला और धधकते हुए कोयले को मिट्टी में फेंक दिया।

जैसे ही वो मिट्टी में फेंका कोयले में आग थोड़ी देर धधकती उसके बाद वो बुझ गया

तब मनीष बोला- सर, ये कोयले का टुकड़ा तो अंगिठी के अंदर जल रहा था,

गर्मी दे रहा था। उसे बाहर मिट्टी में फेंक दिया, बर्बाद कर दिया।

तो प्रिन्सिपल ने कहा- बर्बाद कहा कर दिया,

ये कौन सी बड़ी बात हुई वापिस इसे ठीक कर देते है।

 

उन्होंने वापिस उस कोयले के टुकड़े को उठाया और वापिस अंगिठी में डाल दिया।

फिर से वो टुकड़ा थोड़ी देर बाद जलने लगा, गर्मी देने लगा।

प्रिन्सिपल ने पूछा बेटा कुछ समझ में आया। मनीष ने कहा-नही।

प्रिन्सिपल ने कहा बेटा तुम्हें यही समझाने के लिये मैंने तुम्हें यहाँ बुला रहा था।

मनीष को सारी बात समझ में आ गयी, उसकी लाइफ़ बदल गयी।

 

हम में से कई ऐसे लोग है जो डिप्रेशन का शिकार हो रहे है।

ज़िंदगी के किसी मौक़े पर आप फ़ेल हो गए हो और आपको लग रहा हो

कि सब कुछ बर्बाद हो गया।

इसके आगे कुछ नही हो सकता। कोई ना कोई रास्ता ज़रूर होता है

बस हम उसे देख नही पाते।

जीवन के कई मौक़ों पर जब भी फ़ेल हो तो हमेशा BOUNCE BACK करे।

दुनिया में ऐसे कई महान लोग हुए है

जिन्हें जीवन में बहुत बार असफलता मिली लेकिन फिर भी उन्होंने हार नही मानी और जीवन में बहुत बड़ी सफलता पाई।

कहानी अच्छी लगी हो तो हमें कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर बताए और अपने सुझाव भी बताए।

और भी पढ़े:

6 Morning Habits in hindi- जो जीवन बदल सकती है

अलग सोच अलग पहचान -Motivational Story in Hindi

Motivational Story in Hindi – Life me mauka baar baar nahi milta

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here